प्रेमी-प्रेमिका वशीकरण मंत्र (Premi Premika Vashikaran Mantra)

‘कामाख्‍या देश कामाख्‍या देवी,
जहां बसे इस्‍माइल जोगी,
इस्‍माइल जोगी ने लगाई फुलवारी,
फूल तोडे लोना चमारी,
जो इस फूल को सूँघे बास,
तिस का मन रहे हमारे पास,
महल छोडे, घर छोडे, आँगन छोडे,
लोक कुटुम्‍ब की लाज छोडे,
दुआई लोना चमारी की,
धनवन्‍तरि की दुहाई फिरै।’
”किसी भी शनिवार से शुरू करके 31 दिनों तक नित्‍य 1144 बार मंत्र का जाप करें तथा लोबान, दीप और शराब रखें, फिर किसी फूल को 50 बार अभिमंत्रित करके स्‍त्री को दे दें। वह उस फूल को सूँघते ही वश में हो जाएगी।”

प्रेमी-प्रेमिका वशीकरण मंत्र (Premi Premika Vashikaran Mantra)

 

Advertisements

Vashikaran Mantra For Love प्रेम में सफलता का वशीकरण मन्त्र

पति -पत्नी में मतभेद हो तो ये उपाय करे :- शुक्रवार के दिन एक शहद की छोटी शीशी लेकर शीशी के अन्दर (पति/पत्नी) अपना छोटे आकर का फोटो डाले और रात को बिस्तर के निचे ही दबा कर रखे ,,
मंत्र :- ॐ नमो कामख्या देव्याय ((पति/पत्नी) )मम वश्यं कुरु कुरु स्वाहा,..
I am here for you 24*7 hours for all kinds problems and solve out any situation. call me immediately for solution of your problem.

Vashikaran Mantra For Love प्रेम में सफलता का वशीकरण मन्त्र

Love Marriage Tips लव मैरिज के एस्ट्रो टिप्स

आप अपने मनपसंद साथी के साथ विवाह बंधन में बंधना चाह रहे हैं और तमाम मुश्किलें आपके सामने खड़ी हैं तो अपनाइए कुछ खास उपाय। इन उपायों से आप अपने वेलेंटाइन के साथ बिना किसी बाधा के शादी के बंधन में बंध सकेंगे। ‍

नीचे दिए गए मंत्रों को इच्छुक लड़की 91 दिन घी का दीपक लगाकर जप करें। दुर्गा जी का ध्यान कर 5 माला प्रतिदिन जपें। मां भगवती के आशीर्वाद से आपका अपने वेलेंटाइन से शीघ्र विवाह हो जाएगा।

मंत्र :

1- हे देवि कात्यायनी यथा त्वं शंकरप्रिया।
तथा माम कुरु कल्याणी, कान्त कान्तां सुदुर्लभाम।।

2- कात्यायनी महामाया, महायोगीन्यधीश्वरी
नंद गोप सुतं देहि पति में कुरु ते नम:।।

ND

दूसरा उपाय : शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करें। सरसों या तिल्ली के तेल का ही दीपक लगाएं।

तीसरा उपाय : माह की प्रत्येक प्रदोष तिथि को मां पार्वती का श्रृंगार कर विधिवत पूजन करें। तीन रत्ती से अधिक का जरकन, हीरे या पुखराज की अंगूठी अनामिका में शुभ मुहूर्त में विधिवत धारण करें।

मां पार्वती की विधिवत पूजा करके प्रतिदिन मंत्र की पांच माला का जाप करने पर मनोरथ शीघ्र पूर्ण होता है।
कात्यायनी महामाया, महायोगीन्यधीश्वरी नंद गोप सुतं देहि पति में कुरु ते नम:।।

चौथा उपाय : विवाह के लिए गुरु आराध्य है तथा प्रेम के लिए मंगल और शुक्र

Love Marriage Tips लव मैरिज के एस्ट्रो टिप्स

खोया हुआ प्यार को वापिस पाने का उपाय

                                                                खोया हुआ प्यार को वापिस पाने का उपाय
जीवन में कई बार ऐसा लगने लगता है कि आपके साथी की रूचि प्यार में और आप में कम हो गई है। ऐसे समय में निराश होने की बजाय कुछ सामान्य टोटके भी आजमा सकते हैं। यह ऐसे टोटके हैं जिन्हें प्राचीन काल से आजमाया जाता रहा है।

केला में गोरोचन मिलाकर लेप बनाएं। इस लेप को सिर पर लगाएं। माना जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति में आकर्षण शक्ति आ जाती है। नारियल, धतूरे के बीज, कपूर को पीस लें। इसमें शहद मिलाएं। नियमित इसका तिलक करने से जिसे आप प्यार करते हैं वह आपको छोड़कर नहीं जाता है।

पति की रूचि पत्नी में कम हो गयी हो तो दोनों साथ भोजन करें और भोजन के समय चुपके से पत्नी पति के खाने में अपनी थाली से थोड़ा भोजन रख दे। इससे पति फिर से पत्नी में रूचि लेने लगता है।
ज्योतिषशास्त्र का सिद्धान्त है कि जो ग्रह शुभ फल नहीं दे रहे हैं उनका शुभ फल पाने के लिए उन्हें आकर्षित करके अपने लिए शुभ बनाना चाहिए। इसके लिए ज्योतिषशास्त्र में कई उपाय बताए गये हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार प्रेम और सेक्स का कारक शुक्र ग्रह है और प्रेम के देवता कामदेव हैं।

बहुत से ज्योतिषी बताते हैं कि, अगर व्यक्ति किसी को अपनी ओर आकर्षित करना चाहता है या अपनी सेक्स पावर बढ़ाना चाहता है तो उसे शुक्र एवं कामदेव को प्रसन्न करना चाहिए। इसके लिए कई ज्योतिषी शुक्र और कामदेव के मंत्र जप करने की सलाह देते हैं।

कामदेव मंत्र
‘ऊँ कामदेवाय विद्महे, रति प्रियायै धीमहि, तन्नो अनंग प्रचोदयात्।’ इस मंत्र के जप से दांपत्य जीवन में प्रेम बढ़ता है और सुयोग्य जीवनसाथी प्राप्त होता है। कामदेव का एक शाबर मंत्र है ‘ऊँ नमो भगवते कामदेवाय यस्य यस्य दृश्यो भवामि यस्य यस्य मम मुखं पश्यति तं तं मोहयतु स्वाहा।’ माना जाता है कि इस मंत्र के जप से व्यक्ति में आकर्षण और सेक्स क्षमता बढ़ती है।

शुक्र मंत्र
ओम द्राँ द्रीँ द्रौँ स: शुक्राय नम:।

खोया हुआ प्यार को वापिस पाने का उपाय

Love marriage problem solution प्रेम विवाह की समस्या का समाधान

 

In our culture, inter caste weddings are certainly not suported usually. But in this period, caste limitations are certainly not pursue strictly, consequently lots of people are decide intended for inter caste wedding ceremonies. In Vedic astrology, such weddings are certainly not considered friendly & thus astrological consultation has to be gain. This is mainly because stars influence the achievement of most weddings but in this case stars should be evaluated all the more cautiously.
Kabir Khan is actually specialist in really like problem solution. We’ve solved many cases but now, you an function as the next.
We include solved 10, 028 cases relevant to husband wife dispute

• Problem in your love life
• Many disputes and misunderstanding are in your married life
• Does help in Know about the Affair of your partner with someone
• remove your all curses from your life
• Improve husband wife relationship bonding by many methods
• Remove your manglik dosh from your life
• Remove your sarp dosh from your life
• Provide the solution of in the business set up problem

  • Love Marriage Problems Solution

If you have any problem so visit on this sites. one call to solve your problems ….

Love marriage problem solution प्रेम विवाह की समस्या का समाधान

संतान प्राप्ति के उपाय Totke For Baby Child

 

* वास्तु शास्त्र में कुछ ऐसे प्रमुख दोष बताये गए है जिनके कारण संतान की प्राप्ति नहीं होती या वंश वृद्धि रुक जाती है | इस समस्या के पीछे की वास्तविकता..क्या है इसका शास्त्रीय और ज्योतिषीय आधार क्या है ये आप अपनी जन्म कुंडली के द्वारा जानकारी प्राप्त कर सकते है … इसके लिए आप हरिवंश पुराण का पाठ या संतान गोपाल मंत्र का जाप करे

* पति-पत्नी दोनों सुबह स्नान कर पूरी पवित्रता के साथ इस मंत्र का जप तुलसी की माला से करें।

संतान गोपाल मंत्र :-
———————

” ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं देवकीसुत गोविन्द वासुदेव जगत्पते देहि मे तनयं कृष्ण त्वामहं शरणं गतः ।”

* इस मंत्र का बार रोज 108 जाप करे और मंत्र जप के बाद भगवान से समर्पित भाव से निरोग, दीर्घजीवी, अच्छे चरित्रवाला, सेहतमंद पुत्र की कामना करें।

* अपने कमरे में श्री कृष्ण भगवान की बाल रूप की फोटो लगाये या लड्डू गोपाल को रोज माखन मिसरी की भोग अर्पण करे.

* कई बार प्रायः देखने में आया है की विवाह के वर्षो बाद भी गर्भ धारण नहीं हो पाता या बार-बार गर्भपात हो जाता है, ज्योतिष में इस समस्या या दोष का एक प्रमुख कारण पति या पत्नी की कुंडली में संतान दोष अथवा पितृ दोष हो सकता है या घर का वास्तुदोष भी होता है, जिसके कारण गर्भ धारण नहीं हो पाता या बार-बार गर्भपात हो जाता है

पुत्र प्राप्ति का गणपति  मंत्र :-
——————————-

श्री गणपति की मूर्ति पर संतान प्राप्ति की इच्छुक महिला प्रतिदिन स्नानादि से निवृत होकर एक माह तक बिल्ब फल चढ़ाकर इस मंत्र की 11 माला प्रतिदिन जपने से संतान प्राप्ति होती है।

‘ॐ पार्वतीप्रियनंदनाय नम:’

—————————————————-

पुत्र प्राप्ति के कुछ उपाय:—–

* यदि कन्या के बाद पुत्र कि कामना हो तो ये प्रयोग करें – उत्पन्न हुई कन्या का विदिवत पूजन करें | उसे नमस्कार करें और बन्धु – बांधवों को खीर एवं जलेबी का भोजन कराए | ऐसा करने से भविष्य में पुत्र अवस्य होता हैं |

* जिस स्त्री के पहली संतान लड़का हो, उस लड़के कि नाल जो नि: संतान स्त्री खोलती हैं, वह अवस्य ही पुत्र रत्न से विभूषित होगी |

* पीपल का वृक्ष जिस शमी के उपर उग रहा हो, उस वृक्ष के नीचे जाकर पति – पत्नी दोनों अपनी मनोकामना प्रकट करते हुए वृक्ष का स्पर्श व् प्रणाम कर यह संकल्प करे कि ” गर्भाधान होने तथा पुंसवन के पश्चात जब पुत्ररत्न की प्राप्ति होगी, तब ‘मुंडन – संस्कार ‘ यहीं पर आक की छाया में बैठकर कराएगे | इस टोटके को करने से बंध्या स्त्री भी पुत्र – रत्न को प्राप्त कर लेती हैं |

*  पुष्य नक्षत्र में असगन्ध की जड़ को उखाड़कर गाय के दूध के साथ सिल पर पीसकर पीने से दूध का आहार, ऋतुकाल के उपरांत शुद्ध होने पर पीते रहने से, स्त्री की पुत्र प्राप्ति की अभिलाषा अवस्य पूरण हो जाती हैं |

*  पलाश (टेशू) के पांच कोमल पत्ते किसी स्त्री के दूध में पीसे और जो बांझ स्त्री मासिक धर्म के चोथे दिन स्नान करके उसे खा लेगी, वह निश्चय हैं पुत्र की माता बनने का सोभाग्य प्राप्त करती हैं | ताकतवर और गोरे पुत्र के लिए गर्भवती स्‍त्री को पलाश के एक पत्‍ते को लेकर पीसकर गाय के दूध के साथ रोज पीना चाहिए।

संतान प्राप्ति के उपाय Totke For Baby Child

Mantra For Money धन प्राप्ति के लिए

अगर आपका धन किसी वयक्ति फर्म या किसी कंपनी में या  कही अटका हुआ है और वापिस नहीं आ रहा ! धन प्राप्ति के लिए इस मंत्र का प्रयोग दी गयी विधि से करे आपको शीघ्र ही धन की प्राप्ति होगी

Mantra :- 
“ॐ नमः कर घोर-रुपिणि स्वाहा”
विधिः उक्त मन्त्र का जप प्रातः 11 माला देवी के किसी सिद्ध स्थान या नित्य पूजन स्थान पर करे। रात्रि में 107 मिट्टी के दाने लेकर किसी कुएँ पर तथा सिद्ध-स्थान या नित्य-पूजन-स्थान की तरफ मुख करके दायाँ पैर कुएँ में लटकाकर व बाँएँ पैर को दाएँ पैर पर रखकर बैठे। प्रति-जप के साथ एक-एक करके 107 मिट्टी के दाने कुएँ में डाले। ग्यारह दिन तक इसी प्रकार करे। यह प्रयोग शीघ्र आर्थिक सहायता प्राप्त करने के लिए है।

लक्ष्मी प्राप्ति यन्त्र :- 

Mantra For Money धन प्राप्ति के लिए