स्त्री वशीकरण मंत्र Stri Vashikaran mantra

Stri Vashikaran mantra: “Allah bich hatheli ke muhmammad bich kapar,Uska maan mohini jagat mohe sansar | Moh kare jo moh mar use bhaye pot war dar | Jo na jane mohamad pagmber ki aan | Us par muhmmad mera rasulilah.”

Vidhi: Vidhi:Purush jis ladki ya stri ko mohit karna chahta hai us stri ke pairo ke niche ki mitti uthakr use 7 bar padh kr jis stri ke sir pair dal de whi mohit hokr vash me ho jayegi.is mantra ko 501 bar jaap krna hai or mitti ko hath me rkhna hai jaap krne ke bad mitti ko usi jagha me dal dena jha se uthayi thi.

स्त्री वशीकरण मंत्र Stri Vashikaran mantra

Advertisements

Ruthi hui stri ko Mnane Ka Tarika रूठी हुई स्त्री को मनाने का तरीका

                                       रूठी हुई स्त्री को मनाने का तरीका  :-

“मोहिनी माता, भूत पिता, भूत सिर वेताल। उड़ ऐं काली ‘नागिन’ को जा लाग। ऐसी जा के लाग कि ‘नागिन’ को लग जावै हमारी मुहब्बत की आग। न खड़े सुख, न लेटे सुख, न सोते सुख। सिन्दूर चढ़ाऊँ मंगलवार, कभी न छोड़े हमारा ख्याल। जब तक न देखे हमारा मुख, काया तड़प तड़प मर जाए। चलो मन्त्र, फुरो वाचा। दिखाओ रे शब्द, अपने गुरु के इल्म का तमाशा।”

विधि- मन्त्र में ‘नागिन’ शब्द के स्थान पर स्त्री का नाम जोड़े। शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से 8 दिन पहले साधना प्रारम्भ करे। एक शान्त एकान्त कमरे में रात्रि मे १० बजे शुद्ध वस्त्र धारण कर कम्बल के आसन पर बैठे। अपने पास जल भरा एक पात्र रखे तथा ‘दीपक’ व धूपबत्ती आदि से कमरे को सुवासित कर मन्त्र का जप करे। ‘जप के समय अपना मुँह स्त्री के रहने की स्थान / दिशा की ओर रखे। एकाग्र होकर घड़ी देखकर ठीक दो घण्टे तक जप करे। जिस समय मन्त्र का जप करे, उस समय स्त्री का स्मरण करता रहे। स्त्री का चित्र हो, तो कार्य अधिक सुगमता से होगा। साथ ही, मन्त्र को कण्ठस्थ कर जपने से ध्यान केन्द्रित होगा। इस प्रयोग में मन्त्र जप की गिनती आवश्यक नहीं है। उत्साह-पूर्वक पूर्ण संकल्प के साथ जप करे, सफलता जल्दी ही आपके कदम चूमेगी और कितनी भी कठोर ;दिल क्यों ना हो आपकी और खींची चली आएगी
यदि आप यह करने में असमर्थ हो या जल्दी समाधान चाहते तो हमसे संपर्क करे !

Ruthi hui stri ko Mnane Ka Tarika रूठी हुई स्त्री को मनाने का तरीका